बुलंदशहर (युग करवट)। बुलंदशहर पुलिस को मंगलवार को बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने पिछले साल सराफ ा व्यापारी से हुई लूट के मामले में फरार चल रहे दो बदमाशों को मुठभेड़ में मार गिराया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। बुलंदशहर की नगर कोतवाली इलाके के धमेड़ा अड्डा स्थित सराफ की दुकान में पिछले साल तीन नवंबर को हथियारबंद दो बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया था। साथ ही विरोध करने पर बदमाशों ने सर्राफा व्यापारी राहुल निवासी गांव उटरावली को गोली मार दी थी। जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया था।
पुलिस ने मामले में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच पड़ताल की। साथ ही मामले में चार आरोपियों को बदमाशों की मदद करने और लूट का कुछ माल खरीदने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। लेकिन मुख्य आरोपी आशीष ठाकुर निवासी गांव एमनपुर थाना कोतवाली देहात और उसका साथी अब्दुल निवासी गांव भटवारा थाना खुर्जा देहात फरार चल रहे थे।
मंगलवार तडक़े नगर पुलिस ने वलीपुरा नहर के पास आशीष ठाकुर को मुठभेड़ में मार गिराया। जबकि उसका साथी भाग निकला। बाद में पहासू पुलिस ने चेकिंग के दौरान अब्दुल को पकडऩे की कोशिश की। लेकिन उसने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। जवाबी फायरिंग में अब्दुल पहासू थाना इलाके के पल्ला झाल के पास मुठभेड़ में मारा गया। एसएसपी श्लोक कुमार ने बताया कि आशीष की उपचार के दौरान मौत हो गई। इस पर 12 से ज्यादा मुकदमे दर्ज थे। मुठभेड़ में एक कांस्टेबल और एक दरोगा भी गंभीर रूप से घायल हुआ है । उनका उपचार चल रहा है। दोनों बदमाश पर 50-50 हजार का इनाम घोषित था। बदमाश अब्दुल की भी मौत हो गई है।