युग करवट संवाददाता
मसूरी। गत सप्ताह डासना के पास फिल्मी स्टाइल में हुई ४० लाख की लूट की वारदात का मसूरी थाने के एसएचओ योगेंद्र सिंह की टीम ने खुलासा कर दिया। खुलासे के दौरान यह पता चला है कि जिस रकम को लूटा हुआ बताया गया था, वह ना केवल हवाले की थी बल्कि ४० लाख डकारने के लिये हवाला एजेंट नासिर ने अपने छह परिचितों के साथ लूट का नाटक रचा था। पुलिस ने लूटी गई रकम के साथ उक्त वारदात का ताना बाना बुनने वाले हवाला एजेंट नासिर के अलावा इमरान, शादाब व मुनव्वर सहित सात बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया।
एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा ने बताया कि गत सप्ताह मसूरी थाना क्षेत्र में डासना के पास आधा दर्जन हथियारबंद बदमाशों ने ४० लाख की रकम लूट ली थी। यूं तो वह वारदात शुरू से ही संदिग्ध दिखाई दे रही थी लेकिन जब लूट का शिकार हुए नासिर ने रिपोर्ट दर्ज करवाने मेें आनाकानी शुरू की तो पुलिस का शक और बढ़ गया। हवाला एजेंट ने लूट की रिपोर्ट दर्ज करवा दी। उन्होंने बताया कि पुलिस ने उक्त लूट की वारदात के खुलासे के लिये कवायद करनी शुरू की तो कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आने लगे। पुलिस ने वादी से जब गहन पूछताछ की तो वह अधिक देर नहीं टिक पाया। पूछताछ के दौरान नासिर ने बताया कि वह हवाला की रकम को इधर से उधर भिजवाने का गोरखधंधा करता है। गत सप्ताह उसके आका ने जब हवाला की बड़ी रकम ४० लाख के रूप में भेजी तो उसके मन में उस रकम को डकारने का लालच आ गया। उसके बाद उसने अपने परिचित जो अपराधिक प्रवृत्ति के हैं के साथ मिलकर लूट का नाटक रच दिया।