युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। ५ अप्रैल को साहिबाबाद थाना क्षेत्र की डीएलएफ कॉलोनी में हुई संतोषी नामक विवाहिता की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने उसके पति संतोष व मुंहबोली मौसी शान्ति देवी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उनके पास से वह जेवरात बरामद किए, जिन्हें उन्होंने लूटा हुआ बताया था।
इसके अलावा हत्या में प्रयुक्त हुआ तार भी उनके पास से बरामद कर लिया गया। इस संदर्भ में एसपी सिटी द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह का कहना है कि संतोषी को उसका पति संतोष व मुंहबोली मौसी शान्ति देवी दहेज के लिये प्रताडि़त करते थे। वारदात वाले दिन भी इन दोनों ने संतोषी को प्रताडि़त किया तो उसने आत्मत्या की कोशिश की थी। आत्महत्या के प्रयास के समय जब संतोषी बेसुध हो गई तो संतोष व मुंहबोली मौसी शान्ति देवी ने तार से संतोषी का गला घोटकर उसे मौत के घाट उतार दिया।
पुलिस की पकड़ में आने से बचने के लिये इन दोनों ने ऊपर वाले निर्माणाधीन फ्लैट के ठेकेदार व उसके तीन-चार मजदूरों के द्वारा लूट का विरोध करने पर संतोषी की हत्या करने की बात कही थी। श्री सिंह ने बताया कि पुलिस के द्वारा की गई जांच में संतोष व शान्ति देवी की साजिश का भांडाफोड़ हो गया। श्री सिंह ने बताया कि जो शेष जेवरात संतोषी के हत्यारे पति संतोष व मुंहबोली मौसी शान्ति देवी ने कहीं छुपा दिये हैं, उनकी बरामदगी के लिये पुलिस इन दोनों को न्यायालय में पेश करके उन्हें रिमांड पर लेने का प्रयास करेगी।