युग करवट संवाददाता
लखनऊ। प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तिथियों की घोषणा होने से पहले उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर से चुनाव सेल का गठन किया गया। प्रदेश पुलिस मुख्यालय में बनाये गये चुनावी सेल की जिम्मेदारी एडीजी एल रवि कुमार लोकू को सौंपी गई। इस सेल में आईपीएस एलआर कुमार, आशीष तिवारी और अविनाश पांडेय को जिम्मेदारी दी गई है। मुख्यालय के अलावा हर जोन के मुख्यालय में भी चुनाव सेल का गठन किया गया। जिला मुख्यालयों पर भी चुनाव की सेल का गठन किया गया। चुनाव की तिथियों की घोषणा होने से पहले ही केंद्रीय बलों की तैनाती की कार्यवाही शुरू हो गई है। आयोग की ओर से उत्तर प्रदेश के लिए अद्र्घसैनिक बलों की तैनाती के निर्देश दिए गए। केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के १५० कंपनियां उत्तर प्रदेश के पहले चरण के मतदान में तैनात की जायेगी। इनमें ५० कंपनी सीआरपीएफ, ३० कंपनी सीमा सुरक्षा बल और सशस्त्र सीमा बल के जवान होंगे। अलावा २०-२० कंपनी सीआईएसएफ और भारत तिब्बत सीमा पुलिस के जवान होंगे।
केंद्रीय पुलिस बलों के जवानों को संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों पर तैनात किया जाएगा। सीआरपीएफ की पांच कंपनियों को लखनऊ, वाराणसी, सीतापुर, अलीगढ़ और मुरादाबाद में तैनात किया जाएगा। जबकि सीआईएसएफ के जवानों को आगरा, प्रतापगढ़, बस्ती, गोंडा जैसे जिलों में तैनात किया जाएगा। सूत्रों के अनुसार गाजियाबाद, मेरठ, सहारपुर, एटा, बजनौर, बुलंदशहर, बागपत और मुजफ्फरनगर के संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों पर सीमा सुरक्षा बल के जवानों को तैनात किया जाएगा।