गाजियाबाद (युग करवट)। आज पहली बार पुलिस आयुक्त की हैसियत से कमिश्नरेट के दफ्तर में बैठे पुलिस आयुक्त अजय कुमार मिश्रा से सबसे पहले राजकुमारी नामक महिला ने अपनी फरियाद की। समाचार लिखे जाने तक पुलिस आयुक्त ने २ दर्जन से अधिक फरियादियों की फरियाद सुनने के बाद उनमें से अधिकांश का निस्तारण मौके पर कर दिया था। इस दौरान उन्होंने बार एसेासिएशन के अध्यक्ष योगेंद्र कौशिक व महासचिव नितिन यादव के नेतृत्व में पहुंचे अधिवक्ताओं के प्रतिनिधिमंडल के अलावा विभिन्न सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों से भी मुलाकात की। इसके बाद श्री मिश्रा ने अपने महकमे के कर्मचारियों की समस्याओं को सुनकर उनका निवारण किया। बता दें कि कल शाम को मीडिया से रूबरू होने के बाद पुलिस आयुक्त ने जहां पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक की, वहीं पुलिस लाइन में ही डिनर भी किया। सूत्रों के मुताबिक पुलिस आयुक्त ने अधिनस्थ अधिकारियों के साथ बैठक करते समय उन्हें साफ-साफ बोल दिया कि अपराध रोकने व जनहित में सुनवाई करने में कोई कोताही ना बरतें। सूत्रों के अनुसार उन्होंने यह भी बोला कि उनके साथ वहीं अधिकारी चल पायेगा जो कर्तव्यनिष्ठा एवं ईमानदारी के साथ अपने कर्तव्यों का पालन करेगा।