ईरानी गैंग का हाथ होने का अंदेशा
नोएडा (युग करवट)। थाना सेक्टर-126 क्षेत्र में स्थित जेपी अस्पताल में उपचार करवाने आए इराकी नागरिकों के साथ अज्ञात बदमाशों ने खुद को पुलिसकर्मी बताकर 10 हजार डॉलर की ठगी कर ली। घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है। थाना सेक्टर-126 के प्रभारी निरीक्षक प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि बीती रात को शाहपुर गांव के रहने वाले समदर्ष चौहान ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उनके यहां पर इराक के रहने वाले मोहम्मद जसीम अपनी पत्नी और बेटी के साथ 5 जून को आए। यहां पर वे लोग रहकर जेपी अस्पताल में अपनी बेटी का उपचार करवा रहे हैं। पीडि़त के अनुसार रविवार की शाम को वे टहलने के लिए अपनी पत्नी हिबा और बेटी के साथ पैदल जा रहे थे, तभी रात 9 बजे के करीब एक कार में सवार होकर दो लोग आए। उन्होंने खुद को पुलिसकर्मी बताया तथा उनकी तलाशी लेनी शुरू कर दी। पीडि़त के अनुसार आरोपियों ने उनके कमर में बंधे पर्स को चेक किया। पर्स में रखे करीब 10 हजार डॉलर रखा था। उन्होंने पर्स में रखी रकम अपने पास रख ली। जब उन्हें शक हुआ कि आरोपी पुलिसकर्मी नहीं है तो उन्होंने, उनकी पत्नी और बेटी ने उनकी कार को पडक़र उन्हें रोकने का प्रयास किया। लेकिन बदमाशो ने अपनी कार आगे बढ़ा दी।

इस घटना में पीडि़त की पत्नी और बेटी सडक़ पर गिर गई तथा उन्हें चोट आई। उन्होंने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है। इस घटना के बाद इराकी परिवार काफी परेशान है। पुलिस अधिकारियों का मानना है कि इस घटना को ईरानी गैंग के लोगों ने अंजाम दिया है।