लखनऊ। गोरखपुर में युवा प्रॉपर्टी डीलर की पिटाई से हुई मौत के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिसकर्मियों के रिकार्ड की जांच के लिए दो कमेटियां गठित की है। उन्होंने पुलिस विभाग को इस आशय के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री की ओर से एडीजी कानून व्यवस्था और डीजी इंजेलिजेंस के नेतृत्व में दो कमेटियां बनाने के निर्देश दिए गए हैं। ये कमेटियां प्रदेश के सभी पुलिसकर्मियों का रिकार्ड रिव्यू करेंगी। रिव्यू के बाद रिपोर्ट गृहमंत्रालय को सौंपी जाएगी। रिव्यू रिपोर्ट में दोषी पाए जाने पर पुलिसकर्मी को फोर्स रिटायर्मेंट और उनकी बर्ख़ास्तगी की जाएगी। सूत्रों के अनुसार, इस रिव्यू में आम पुलिसकर्मी से लेकर आईपीएस अधिकारियों को शामिल किया जाएगा।