प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। शहर में करीब 25 करोड़ रुपये की लागत से पांच कूड़ा ट्रांसफर केंद्र बनाए जाएंगे। इनमें सबसे पहले साइट चार इंडस्ट्री एरिया में कूड़ा ट्रांसफर केंद्र बनेगा। कुल मिलाकर इन सभी पांच कूड़ा ट्रांसफर केंद्र बनाने का कार्य चार प्राइवेट कंपनी करने जा रही है। इन कंपनियों को ही करीब छह महीने पहले नगर निगम प्रशासन ने यह कार्य आवंटित किया था। शहर में अभी कूड़ा डलावघर बने हुए है जिस कारण जगह-जगह गंदगी का ढेर लगा रहता है। कूड़े के डलावघरों को विलोपित करने के लिए भी नगर निगम अपना अभियान चला रहा है जिसके तहत शहर में 62 कूड़ाघरों को विलोपित किया गया है। इसके लिए नगर निगम गाजियाबाद को सम्मानित भी किया जा चुका है। अब नगर निगम शहर में जगह-जगह पडऩे वाले कूड़े की समस्या का चेप्टर ही पूरी तरह से क्लोज करने की तैयारी में है। निगम के हेल्थ अफसर डॉ. मिथिलेश कुमार ने बताया कि नगर निगम प्रशासन की की ओर से पांच कूड़ा ट्रांसफर केंद्र बनाने के लिए अनुबंध किया गया है। इसमें सबसे पहले वसुंधरा जोन का कूड़ा डलावघर बनकर तैयार होने जा रहा है। संभावना है कि अगले महीने शहर का पहला ऑटोमैटिक कूड़ा ट्रांसफर केंद्र बनकर तैयार हो जाएगा। इसको बनाने में करीब पांच करोड़ रुपया खर्च होगा।