युग करवट संवाददाता
नोएडा। पश्चिमी देशों की तर्ज पर गौतमबुद्धनगर पुलिस कमिश्नरेट बाल भिक्षावृत्ति, बाल अपराध व बाल नशामुक्ति को रोकने के लिए कार्य कर रही है। इसके तहत जनपद के छह जगहों पर मलिन बस्तियों में विशेष शिक्षा केंद्र स्थापित किया गया है। इसका विधिवत उद्घाटन आज गौतमबुद्धनगर पुलिस के पुलिस आयुक्त आलोक सिंह तथा नोएडा के विधायक पंकज सिंह करेंगे। पुलिस उपायुक्त महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला ने बताया कि महिला एवं बाल सुरक्षा इकाई गौतमबुद्धनगर पुलिस द्वारा बाल भिक्षावृत्ति पर प्रभावी अंकुश लगाने, बाल अपराध रोकने तथा बच्चों के बीच नशे की लत को खत्म करने के उद्देश्य ‘सब पढ़े सब बढ़े’ स्लोगन के तहत एक विशेष अभियान शुरू किया है। उन्होंने बताया कि इसके तहत सामाजिक संस्थानों, गौतमबुद्धनगर शिक्षा विभाग, तथा विभिन्न कंपनियों के निगमित सामाजिक उत्तरदायित्व से गौतमबुद्धनगर के सेक्टर-44, सेक्टर-76, सेक्टर-84, सेक्टर-14ए, ग्रेटर नोएडा वेस्ट तथा सेक्टर-63 में 6 केंद्र स्थापित किए गए हैं।
उन्होंने बताया कि यहां की मलिन बस्तियों में रहने वाले बच्चों को मौके पर ही आधुनिक शिक्षा, सांस्कृतिक ज्ञान तथा सामाजिक ज्ञान दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि पुलिस विभाग का यह प्रयास है कि अपराध में संलिप्त होने से पूर्व ही बच्चों को सही राह पर लाया जाए। उन्होंने बताया कि शिक्षा के अभाव के चलते मलिन बस्तियों में रहने वाले बच्चे गलत रास्ते पर चल पड़ते हैं, जो आगे चलकर कानून व्यवस्था के लिए एक चुनौती बनते हैं। उन्होंने बताया कि गौतमबुद्धनगर पुलिस कमिश्नरेट इसके लिए लगातार प्रयास कर रही है। आज से सभी केंद्रों पर आधुनिक तकनीकी के माध्यम से शिक्षा शुरू कर दी जाएगी। उन्होंने बताया कि गौतमबुद्धनगर पुलिस इस बात की तैयारी कर रही है कि शिक्षा केंद्र के माध्यम से सुधारे गए बच्चे, दोबारा से भिक्षा बृत्ती, अपराध तथा नशा की तरफ नशे ना चले जाएं।