युग करवट संवाददाता
ग्रेटर नोएडा (युग करवट)। दिल्ली मुंबई औद्योगिक गलियारा परियोजना तथा डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कारपोरेशन के लिए अधिग्रहित की गई जमीन के मुआवजे व अन्य मांगों को लेकर ग्रेटर नोएडा के पल्ला गांव मैं 276 दिन से धरना दे रहे महिला- पुरुष किसानों ने आमरण अनशन शुरू कर दिया है। किसानों का अनशन आज चौथे दिन भी जारी रहा। अनशन पर बैठे किसान नेता सुनील फौजी और फतह सिंह भाटी का चिकित्सकों की एक टीम द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण भी किया गया। अनशन पर बैठे किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि पिछले कई सालों से चली आ रही मांगों को लेकर यह आमरण अनशन किया जा रहा है। किसानों की मांग है कि नए कानून के तहत बाजार दर का 4 गुना मुआवजा, किसानों और भूमिहीनों के बच्चों को रोजगार दिया जाए। इस दौरान आंदोलन करने वाली कमेटी का और विस्तार भी किया गया। उन्होने बताया कि शासन और प्रशासन स्तर के अधिकारियों से कई दौर की वार्ताएं होने के बाद भी प्रभावित किसानों को अभी तक न्याय नहीं मिला है। इससे व्यथित होकर किसान भूख हड़ताल पर बैठने को मजबूर हुए हैं। किसानों ने मांग की है कि जल्द से जल्द मुख्यमंत्री से उनकी वार्ता कराकर किसानों की मांगें पूरी कराई जाएं।