युग करवट ब्यूरो
लखनऊ। लखनऊ में नाबालिग लडक़े ने मां को मौत के घाट उतार दिया, क्योंकि मां पब्जी गेम खेलने से मना करती थी। यमुनापुरम कॉलोनी से पुलिस कंट्रोल रूम में एक फोन किया गया कि पड़ोस के घर से तेज बदबू आ रही है और कुछ गड़बड़ी की आशंका है। रात के वक्त ही पुलिस इस मकान में पहुंची तो घर में एक नाबालिग भाई-बहन मिले, लेकिन जब अंदर के बेडरूम का दरवाजा खोला गया तो सब सन्न रह गए। कमरे के अंदर एक महिला की लाश देखकर पुलिस चौंक गई। यकीन करना मुश्किल है कि मोबाइल गेमिंग की लत से मजबूर बेटे ने मां की ही जान ले ली, लेकिन लखनऊ पुलिस का दावा है कि उसने हत्या का ये केस चंद घंटों में ही सुलझा लिया है और उसके मुताबिक, हत्या की ये थ्योरी सौ फीसदी सही है। आरोपी नाबालिग ने पुलिस के सामने कबूला है कि उसकी मां उसे मोबाइल पर पब्जी गेम खेलने पर रोकती थी। इससे खफा होकर उसने रविवार की आधी रात को पिता की लाइसेंसी पिस्टल से मां के सिर पर गोली मार दी। मां की मौत के बाद उसने शव को कमरे में बंद कर दिया और छोटी बहन को धमकाकर दूसरे कमरे में बंद कर दिया और पूरे दो दिनों तक मां के शव के साथ इसी घर में बंद रहा।