कल अदालत ने पांच दिन का रिमांड दिया था, आज जेल से पुलिस ने लिया रिमांड पर
नोएडा (युग करवट)। कुख्यात स्क्रैप माफिया रवि काना की थाईलैंड से हुई गिरफ्तारी के बाद उसे नोएडा के कोर्ट में पेश किया गया था, जहां से न्यायालय ने उसको 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था। नोएडा पुलिस ने सोमवार को न्यायालय में अर्जी लगाकर उसकी 5 दिन की कस्टडी डिमांड की मांग की थी। जिसे न्यायालय ने नोएडा पुलिस की याचिका को स्वीकार करते हुए रवि काना की 5 दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड दिया है। आज सुबह नोएडा पुलिस ने उसे जेल से रिमांड पर ले लिया। अब रवि काना से पुलिस की एक विशेष टीम पूछताछ करेगी। रवि काना की मैनेजर काजल को भी पुलिस कस्टडी रिमांड पर लेने का प्रयास कर रही है। रवि काना को पुलिस कस्टडी रिमांड पर आने के बाद उसके संरक्षकों की धडक़नें तेज हो गई है।
पुलिस अधिकारियों का मानना है कि पुलिस कस्टडी रिमांड पर रवि काना से कुछ और राज उगलवाए जा सकते हैं। पुलिस सूत्र बताते हैं कि रवि के नेटवर्क से जुड़े कई लोगों के खिलाफ कार्रवाई हो सकती है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार रवि काना को 26 अप्रैल को नोएडा पुलिस ने दिल्ली एयरपोर्ट से अपने हिरासत में लिया। उसकी पूर्व में थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में गिरफ्तारी हुई थी। थाईलैंड सरकार ने उसे भारत मे डिपोर्ट किया। उसके बाद दिल्ली एयरपोर्ट से नोएडा पुलिस ने उसे अपनी हिरासत में लिया था। 27 अप्रैल से जनपद गौतम बुद्ध की कोर्ट में पेश किया गया था। वहां से न्यायालय ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था। पुलिस अधिकारी के अनुसार इस दौरान नोएडा पुलिस ने उससे गहनता से पूछताछ की। उसने पूछताछ के दौरान कई आईपीएस, आईएएस, अधिकारियों, ज्यूडिशरी से जुड़े लोगों, एसटीएफ के अधिकारियों, मीडिया जगत से जुड़े लोगों तथा कई नेताओं के नाम लिया है। रवि काना की पुलिस कस्टडी रिमांड मिलने के बाद अब उन लोगों की धडक़नें तेज हो गई है जो कुख्यात स्क्रैप माफिया रवि के साथ मिलकर करोड़ों के वारे-न्यारे कर रहे थे।