नई दिल्ली। अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाली भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर फिर चर्चाओं में हैं। इस बार उन्होंने भाजपा से निलंबित नूपुर शर्मा के समर्थन में बयान दिया है। साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा कि सच कहना अगर बगावत है तो समझों हम भी बागी हैं। साध्वी प्रज्ञा ने बयान दिया कि मुसलमानों को असलियत बताने पर इतनी तकलीफ क्यों होती है? कमलेश तिवारी का जिक्र करते हुए बोला कि उन्होंने जो कहा उसके बाद उनकी हत्या कर दी गई। उन्होंने कहा कि मैं शायद इस बात से बदनाम हूं कि मैं सत्य बोलती हूं, चाहे कुछ भी हो।
यह भी एक सत्य है कि वहां शिव मंदिर था, है और रहेगा। उसको फव्वारा कहना हमारे हिंदू मानदंड, हमारे हिंदू देवी-देवता, सनातन के मूल धर्म पर कुठाराघात है, इसलिए हम असलियत बताएंगे। भाजपा सांसद ने कहा कि हमारी असलियत तुम बता दो, हमें स्वीकार है। लेकिन तुम्हारी असलियत हम बता रहे हैं तो क्यों तकलीफ है?