युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। वरिष्ठ नेता चौधरी तेजपाल सिंह को तीसरी बार जिलाध्यक्ष बनाए जाने की आज क्षेत्रीय अध्यक्ष यशवीर सिंह ने प्रेसवार्ता में विधिवत घोषणा की। इस अवसर पर उन्होंने नियुक्ति पत्र सौंपते हुए रालोद जिलाध्यक्ष का पदभार भी सौंपा। प्रेसवार्ता के दौरान नवनियुक्त जिलाध्यक्ष चौधरी तेजपाल सिंह ने कहा कि जिला रालोद का संगठन पार्टी के प्रति पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ चलाया जाएगा। संगठन में सभी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को पूरा मान-सम्मान दिया जाएगा।
चौधरी तेजपाल सिंह ने कहा कि विधानसभा चुनाव आने वाले हैं। समाजवादी पार्टी के साथ रालोद का गठबंधन होने जा रहा है। गठबंधन में जो भी प्रत्याशी पार्टी हाईकमान द्वारा उतारा जाएगा उसे पूरी ताकत के साथ संगठन चुनाव लड़वाएगा। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की कि प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को जयंत चौधरी का चुनाव मानकर चलें। क्षेत्रीय अध्यक्ष चौधरी यशवीर सिंह ने कहा कि सात दिसंबर को मेरठ में समाजवादी पार्टी और रालोद की संयुक्त रैली होने जा रही है। इसमें विधिवत दोनों पार्टियों के गठबंधन की घोषणा हो जाएगी।
रालोद और समाजवादी पार्टी मिलकर प्रदेश की अहंकारी सरकार को उखाड़ फेंकने का कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि पिछले एक साल से किसान बॉर्डर पर आंदोलन कर रहा था। एक साल तक केंद्र की भाजपा सरकार को किसान नजर नहीं आए। चुनाव के दौरान हार दिखाई दी तो देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कृषि कानून लेने की घोषणा की। प्रेसवार्ता में मौजूद मोदीनगर के पूर्व विधायक सुदेश शर्मा ने कहा कि पार्टी का संगठन रालोद की नीतियों को जन-जन तक पहुंचाने का काम पूरी ताकत के साथ कर रहा है। 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में सपा और रालोद मिलकर प्रदेश की सरकार को बदलने का काम करेंगे।
प्रेसवार्ता में वरिष्ठ रालोद नेता अजय प्रमुख, गन्ना परिषद मोदीनगर के चेयरमैन अमरजीत सिंह बिड्डी, महानगर अध्यक्ष अरुण चौधरी भुल्लन, कुंवर अयूब अली, इंद्रजीत सिंह टीटू, अजयवीर सिंह एडवोकेट, प्रदेश प्रवक्ता रेखा चौधरी, रविंद्र चौहान, धमेंद्र राठी, भूपेंद्र बॉबी, शुभेंदू कौशिक, योगेन्ंद्र वीरभान, हिमांशु नागर, हिमांशु तेवतिया, ओडी त्यागी, प्रीतमलाल, विशाल चौधरी आदि रालोद नेता एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे।