युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। कोरोना के दौर में निजी स्कूलों की लूट-खसोट पर सरकार की चुप्पी के विरोध में जिला मुख्यालय में गाजियाबाद पेरेंट्स एसोसिएशन ने बुद्घि-शुद्घि यज्ञ किया। इस दौरान अभिभावकों ने सीएम योगी के नाम ज्ञापन भी सौंपा। एसोसिएशन की अध्यक्षा सीमा त्यागी ने कहा कि १८ महीने से अधिक समय से स्कूल बंद हैं और ऑनलाइन क्लास चल रही हैं लेकिन निजी स्कूल अभिभावकों से फीस पूरी वसूल रहे हैं। संघ ने मांग की है कि ऑनलाइन क्लास के आधार पर फीस का निर्धारण किया जाए। स्कूलों के पास मौजूद फंड की जांच की जाए व दस साल की बेलेंस शीट की जांच कराई जाए। प्रदेश के सरकारी स्कूलों को विश्वस्तरीय बनाया जाए व सीबीएसई बोर्ड से अधिक से अधिक स्कूलों की मान्यता कराई जाए। स्कूलों में एनसीईआरटी की किताबें लगवाना सुनिश्चित कराया जाए। निजी स्कूलों का रजिस्ट्रेशन सोसायटी एक्ट से हटाकर कंपनी एक्ट में संशोधित किया जाए। अभिभावकों ने यज्ञ में आहूति देकर सरकार की चुप्पी तोडऩे की प्रार्थना भी ईश्वर से की है। इस दौरान नरेश कुमार, विवेक त्यागी, अनिल सिंह, जसवीर रावत, अमित चौधरी, ललिता कुमार व कौशल कुमार आदि मौजूद रहे।