युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। नगर निगम की दुकानों पर कारोबार करने वाले लोगों की अब जेब खाली होगी। अब नगर निगम में इन दुकानदारों को नामांत्रण के लिए तीन लाख रुपये देने होंगे। साथ ही एक साथ करीब ढ़ाई गुना किराया भी निगम अब बढ़ाकर वसूलेगा। यह नियम नगर निगम की सभी 1702 कारोबारियों पर लागू होगा। नगर निगम की इन सभी दुकानों का किराया काफी कम है। इसी को लेकर नगर निगम लंबे समय से मुद्दा बना रहा है। निगम ने सभी दुकानदारों को नोटिस जारी कर मार्केट रेट के हिसाब से किराया बढ़ाने का फैसला लिया था।
इसी को लेकर निगम ने नोटिस जारी किए थे। बाद में नगर निगम ने इन नोटिस के आधार पर आपत्ति और सुझाव मांगे थे। निगम का दावा था कि उन्होंने सभी आपत्तियों का निस्तारण कर दिया। इसके बाद सदन में इस प्रस्ताव को चर्चा के लिए रखा गया था। निगम चाहता था कि सभी दुकानों का किराया डीएम सर्किल रेट के हिसाब से बढ़ाया जाए।
इस पर लंबी बहस हुई। बाद में तय किया गया कि अब नामांत्रण की फीस निगम तीन लाख रुपये लेगा। साथ ही जो किराया अभी दुकानों का है उसका ढ़ाई गुण अधिक बढ़ाकर किराया लिया जाएगा।