नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। इस बार नगर पंचायत डासना के चुनाव को लेकर क्षेत्र के लोगों में काफी उत्साह दिखाई दे रहा है। प्रचार के मामले में भी सबसे अधिक प्रचार डासना क्षेत्र में ही दिखाई दे रहा है। अगर बात की जाए डॉ. मुजाहिद हुसैन उर्फ बाबू भाई की तो प्रचार के मामले में भी वह सबसे आगे चल रहे हैं। चुनावी कार्यालय पर सबसे ज्यादा भीड़ उन्हीं के यहां दिखाई दे रही है। उनका कहना है कि वह राजनीति में केवल जनसेवा के लिए आए हैं और इस बार पंचायत चेयरमैन बनने के बाद लोगों को लगेगा कि क्षेत्र का विकास कैसे होता है। मुजाहिद हुसैन को सभी लोगों का समर्थन मिल रहा है।
डासना नगर पंचायत से चेयरमैन प्रत्याशी डॉ. मुजाहिद हुसैन उर्फ बाबू भाई ने कहा कि उनके चेयरमैन बनने पर क्षेत्र का चहुंमुखी विकास होगा। भावी चेयरमैन प्रत्याशी डॉ. मुजाहिद का अपनी प्राथमिकतओं को लेकर कहना है कि उनकी पहली प्राथमिकता शिक्षा होगी जिसकी क्षेत्र में बड़ी जरूरत है। क्षेत्र में एजुकेशन का बेहतर प्रबंध किया जाएगा जिससे बच्चों को गुणवत्ता परक शिक्षा मिल सके। उन्होंने कहा कि हमारी दूसरी प्राथमिकता क्षेत्र को बेहतर शिक्षा व्यवस्था मुहैया कराना है। यहां लोगों को विशेषकर गर्भवती महिलाओं व नवजात बच्चों स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं मिल पातीं। क्षेत्र में सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है, जगह-जगह गंदगी के ढेर लगे हुए हैं।
गंदगी के कारण क्षेत्र में संक्रमित बीमारियां पनप रही हैं और लोग आए दिन बीमार रहते हैं, लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं है। उन्होंने कहा कि लोग उनसे क्षेत्र की समस्याओं को लेकर शिकायत करते हैं। यही वजह है कि वह राजनीति नहीं बल्कि जनसेवा करने के लिए आना चाहते हैं। उनका मकसद भी क्षेत्र के लोगों की सेवा करना है। उन्होंने कहा कि वह जनता के विश्वास पर खरे उतरेंगे।
डॉ. मुजाहिद का कहना है कि बुजर्र्गों के लिए पार्क बनाए जाएंगे, जो जमीन पार्क के लिए आंवटित हैं उनको डवलप किया जाएगा। बुजुर्गों के लिए लिटलेचर की व्यवस्था की जाएगी जिसमें वह अपनी पंसद की पुस्तकें पढ़ सकेंगे।
पूरे क्षेत्र को एजुकेटेड हब बनाना हमारी प्राथमिकता में शामिल रहेगा। क्षेत्र के युवा नशाखोरी की ओर बढ़ रहे हैं जिस वजह से वे गलत संगत में आ रहे हैं। ऐसे में युवाओं को नशे की लत से बचाने के साथ ही उन्हें रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे। क्षेत्र में कई फैक्ट्रियां हैं जहां बड़ी संख्या में बाहरी लोग काम करते हैं, उन फैक्ट्रियों में स्थानीय लोगों को काम दिलाया जाएगा जिससे युवाओं को रोजगार मिल सके और वह गलत संगत की ओर न जाएं। उन्होंने कहा कि अभी तक पूर्व में जो भी चेयरमैन हुए हैं वे एजुकेटड नहीं थे जिसकी वजह से व नगर पंचायत को मिलने वाली ग्रांट को कैसे खर्च किया जाए नहीं जानते थे। वह नगर पंचायत को मिलनी वाली पूरी ग्रांट को तो खर्च करेंगे। साथ ही क्षेत्र के विकास के लिए किस स्त्रोत से ग्रांट जुटाई जा सकती है इसपर भी काम किया जाएगा जिससे क्षेत्र का चहुमुंखी विकास हो सके।