गाजियाबाद (युग करवट)। स्वच्छ सर्वेक्षण को लेकर गाजियाबाद और प्रयागराज नगर निगम के नगर आयुक्त स्पेशल ट्रेनिंग के लिए तमिलनाडू गए है। गाजियाबाद नगर आयुक्त डॉ0 नितिन गौड़ ने बताया कि टे्रेनिंग 17 से लेकर 20 जनवरी तक चलेगी। यह एक तरह से सॉलिडवेस्ट डिस्पोजल आदि के बिंदुओं पर फोकस ट्रैनिंग होगी। इस संबंध में डारेक्टर लॉकल बॉड़ी नेहा शर्मा आईएएस अधिकारी की ओर से यूपी के दो नगर आयुक्त को स्पेशल ट्रेनिंग के लिए भेजा गया है। स्टेट मिशन डायरेक्टर एसबीएम अर्बन विभाग की ओर से सॉलिडवेस्ट मैनेजमेंट के लिए प्लानिंग तैयार की गई है। ताकी सॉलिडवेस्ट को जीरो वेस्ट में बदला जा सके। इसके लिए ही यूपी सरकार हर वर्ष अधिकारियों के लिए एक ट्रेनिंग प्रोग्राम तैयार करती है। इसी क्रम में इस वर्ष गाजियाबाद नगर निगम और प्रयागराज के नगर निगम के नगर आयुक्त को स्पेशल ट्रेनिंग के लिए भेजा गया है। ट्रेनिंग में किस तरह से नगर निगम को फाइनेंसल मजबूत किया जाए। इसके लिए भी टिप्स दिए जाएंगे। दरअसल प्रदेश के कई ऐसे नगर निगम है जहां एसबीएम चल रहा है। ऐसे में कई नगर निगम ऐसे है जहां आर्थिक तौर पर कमजोर है। उन्हें और मजबूत बनाने के लिए भी कार्य किया जा रहा है।

अपर नगर आयुक्त यादव को मिला नगर आयुक्त का चार्ज

गाजियाबाद। नगर आयुक्त डॉ0 नितिन गौड़ पांच दिन के लिए ट्रेनिंग आदि के लिए सरकारी कार्य से बाहर गए है। अब पांच दिन के लिए नगर आयुक्त का चार्ज अपर नगर आयुक्त अरूण कुमार यादव के पास रहेगा। नगर आयुक्त डॉ0 गौड़ तीन दिन तमिलनाडू में ट्रेनिंग पर रहेंगे। इसके बाद वह दो दिनों के लिए दिल्ली में आने वाली कार्यशाला में शरीक होंगे। इस तरह से शहर से पांच दिनों के लिए बाहर रहेंगे। ऐसे में अब नगर आयुक्त का चार्ज तब तक अपर नगर आयुक्त अरूण कुमार यादव के पास रहेगा।