युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। कारण बताओं नोटिस का जवाब देते ही अवर अभियंता योगेश कुमार और अवर अभियंता कपिल मोहन को नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर ने एक कार्यमुक्त कर दिया। गत दिनों छापे के दौरान अवर अभियंता योगेश कुमार शराब के नशे में मिले थे। इस मामले को लेकर नगर आयुक्त की यह बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है। गत दिनों एक फोटो वायरल हुआ था। जिसमें नगर निगम की कविनगर जोन स्थित इंजीनियरिंग विभाग के ऑफिस कैंपस कुछ कर्मचारियों द्वारा शराब पीते हुए का फोटो था। बाद में नगर आयुक्त के निर्देश पर कविनगर जोन के इसी कैंपस में अपर नगर आयुक्त शिवपूजन यादव ने छापा मारा। छापे के दौरान अवर अभियंता योगेश कुमार शराब के नशे में मिले थे। इस मामले में नगर आयुक्त की ओर से कारण बताओं नोटिस जारी किया था। अवर अभियंता योगेश कुमार की ओर से कल ही नगर आयुक्त के नोटिस का जवाब दिया था। नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर ने योगेश कुमार को कार्यमुक्त कर दिया। इनके अलावा अवर अभियंता कपिल मोहन को भी नगर आयुक्त ने आज कार्य मुक्त कर दिया। कपिल मोहन का 15 जुलाई को पिछले वर्ष शासन ने बुलंदशहर तबादला किया था। वहीं इसी दिन योगेश कुमार का तबादला देवबंद किया गया था। तब से उन्हें रिलीव नहीं किया जा रहा था। अब दोनों को अपनी नई पोस्टिंग पर जाना होगा।