गाजियाबाद। जीडीए में अब कंपाउंडिंग के नियम सख्त हो गए है। इसके साथ ही नक्शे से अधिक निर्माण होने पर कंप्लीशन जीडीए से कंप्लीशन जारी नहीं होगा। नियोजन विभाग के नियम के मुताबिक किसी भी निर्माण के लिए पहले नक्शा पास कराना होता है। इसके बाद उसी के हिसाब से निर्माण करना पड़ता है। गत दिनों यूपी सरकार के नियोजन विभाग ने शमन योजना को लागू किया था। इसमें छूट दी गई थी। यानि अगर नक्शे में करीब दस प्रतिशत का अपवंचन यानि अधिक निर्माण है तो कंपाउंड शुल्क देकर उसका नियमितिकरण किया जा सकेगा।
अब नियोजन विभाग के नियमों को लेकर जीडीए ओर सख्त हो गया है। जीडीए के नियोजन विभाग ने स्पष्टï कर दिया कि अगर नक्शे से अधिक कोई निर्माण है तो वह नियमित नहीं होगा। हालांकि नियमानुसार थोड़ा निर्माण कंपाउंड हो सकता है। इसके कंपाउंड होने के बाद ही निर्माण का जीडीए कंप्लीशन जारी कर सकेगा। जीडीए ने इसके लिए सख्ती इसलिए की है कि अवैध निर्माण को रोका जा सके। कई बार जीडीए में शिकायत आती है कि किसी ने एक मंजिल मकान बनाने का नक्शा पास कराया। मगर उसे कई मंजिला मकान बना दिया।