प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। जिले के तीन मास्टर प्लान पर आपत्तियों के निस्तारण की प्रक्रिया आज से शुरू होने जा रही है। सुनवाई आज से शुरू होकर 25 अगस्त तक चलेगी। सुनवाई रोज वर्किंग डे में चार बजे जीडीए सभागार में होगी। जीडीए के नियोजन विभाग ने गत दिनों लगातार एक महीने तक जिले के तीन मास्टर प्लान पर आपत्ति और सुझाव मांगे थे। मास्टर प्लान मोदीनगर-मुरादननगर, लोनी और गाजियाबाद के प्रस्तावित मास्टर प्लान 2031 को तैयार के लिए यह प्रक्रिया चल रही है। यह पहला मास्टर प्लान बनाया जा रहा है जो डिजिटल डेटा बेस होगा। प्राइवेट सेक्टर की एक कंपनी की ओर से इस मास्टर प्लान के लिए पहली बार डेटा रिमोट सेंसिंग सर्वे के माध्यम से लिया गया है। ताकी मास्टर प्लान में किसी तरह की समस्या पैदा नहीं हो। हाल ही में मास्टर प्लान के लिए जीडीए ने आपत्तियां मांगी थी। करीब 1400 से अधिक लोगों ने जीडीए में मास्टर प्लान को लेकर आपत्ति और सुझाव दर्ज कराए हैं। आज से इन सब की सुनवाई शुरू होगी। इसके लिए जीडीए सभागार में आपत्तियों पर सुनवाई होगी। सुनवाई के लिए पहले ही शासन स्तर पर कमेटी गठित है। यूपी अर्बन प्लानिंग एवं नियोजन विभाग, मंडलायुक्त, डीएम, नगर आयुक्त, टीपी, सीएटीपी, आदि अधिकारी शामिल होंगे।