युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। लोनी बॉर्डर थाना क्षेत्र की उत्तरांचल कॉलोनी में हुई एक सनसनीखेज अपराधिक वारदात के दौरान दो अबोध बच्चों की हत्या कर दी गई। वहीं उनकी माका शव भी फंदे पर झूलता हुआ मिला। उक्त वारदात का पता चलते ही एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा व सीओ लोनी अतुल कुमार सोनकर सहित एसएचओ घटनास्थल पर पहुंच गये। इसके बाद पुलिस की फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल की गहन जांच की।
इस घटना के संदर्भ में एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा ने बताया कि पुलिस को जीटीबी अस्पताल दिल्ली की तरफ से सूचना मिली थी कि अस्पताल में प्रिया दहिया पुत्री अरुण दहिया नामक युवती और उसकी ६ साल की बच्ची व डेढ़ माह के पुत्र को मृत अवस्था में लाया गया है। इस सूचना के मिलते ही पुलिस अस्पताल पहुंच गई।
श्री राजा ने बताया कि प्राथमिक जांच के दौरान पता चला है कि सात-आठ वर्ष पूर्व प्रिया दहिया व अरविंद मलिक ने लव मैरिज की थी। शादी के कुछ समय बाद उनके यहां बेटी ने जन्म लिया। डेढ़ माह पूर्व प्रिया ने पुत्र को जन्म दिया था। प्रिया आजकल उत्तरांल कॉलोनी की गली नंबर सात में अपने पति अरविंद मलिक व दोनों अबोध बच्चों के साथ रह रही थीं। एसपी देहात ने बताया कि पूछताछ के दौरान यह बात भी सामने आई पिछले कुछ समय से प्रिया डिप्रैशन में चल रही थी।
श्री राजा ने बताया कि ऐसा लगता है कि प्रिया ने पहले तो अपने पुत्र-पुत्री की गला घोकर हत्या कर दी होगी और फिर खुद भी फंदे पर झूल गई होगी। क्या प्रिया की हत्या किये जाने की भी संभावना है, जब इस बाबत एसपी देहात से पूछा गया तो उनका कहना था कि प्रथम दृष्टïया तो यह मामला दोनों बच्चों की हत्या के बाद प्रिया के द्वारा आत्महत्या करने का मामला लग रहा है लेकिन प्रिया की मौत हुई अथवा उसने आत्महत्या की, इन सवालों का जवाब तो पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के आने और जांच पूरी होने पर ही चल पायेगा।
श्री राजा ने बताया कि अभीतक किसी ने भी इस मामले में कोई तहरीर नहीं दी है। एसपी देहात का यह भी कहना है कि घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट भी बरामद नहीं हुआ है। पुलिस इस घटना के खुलासे के लिये कई ऐंगल पर जांच कर रही है। उधर, इस सनसनीखेज घटना के बाद उत्तरांचल कॉलोनी में कई प्रकार की चर्चाएं भी चलती हुई दिखाई दींू।