गाजियाबाद (युग करवट)। बीती रात मसूरी थाना क्षेत्र के गांव नाहल में रहने वाले दो गुट मूंछों की लड़ाई के चलते आपस में भिड़ गये। मामूली बात को लेकर हुए इस खूनी संघर्ष में जहां दोनों पक्षों में जमकर लाठी-ड़ंड़े व धारदार हथियार चले वहीं फायरिंग भी हुई। इस खूनी संघर्ष में दोनों गुटों के एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गये। उक्त झगड़े की सूचना मिलने के बाद जहां आला अधिकारी फोर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर शांति एवं कानून व्यवस्था को कायम करने में लग गये वहीं नाहल चौकी प्रभारी चंद्रपाल सिंह की तहरीर पर मसूरी थाना पुलिस ने जाहिद व कामिल पक्ष के दो दर्जन से अधिक आोपितों के खिलाफ अपराधिक धारा ३०७, ३२३, ३३६, क्रिमिनल एक्ट ७, १४७, १४८, १४९, ५०४ व ५०६ के तहत रिपोर्ट दर्ज करके आधा दर्जन अभियुकतों को हिरासत में ले लिया। यह जानकारी देते हुए एसीपी मसूरी नरेश कुमार सिंह ने बताया कि यह खूनी संघर्ष उस समय हुआ कि जब नाहल निवासी जाहिद अपने घर पर सीसीटीवी कैमरा लगा रहा था और उस कैमरे का मुंह विपक्षी कामिल के मकान की और कर दिया था। श्री सिंह ने बताया कि मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल से ३१ बोर के कारतूस, पत्थर एवं धारदार हथियारों के अलावा कई जोड़ी जूते-चप्पल बरामद करके घायलों को अस्पतालों में भर्ती करवाकर अग्रिम कार्रवाई करनी शुरू कर दी। वहीं डीसीपी रूरल विवेकचंद्र यादव ने बताया कि कानून व्यवस्था को अपने हाथ में लेकर खूनी संघर्ष करने वाले अभियुक्तों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जायेगी।