गाजियाबाद (युग करवट)। मेरठ रोड तिराहे से लेकर दुहाई तक हाईस्पीड ट्रेन के ट्रैक के नीचे नगर निगम डिजिटल लाइट लगाने जा रहा है। इसके लिए जल्दी ही सर्वे शुरू किया जाएगा। इस रोड पर फिलहाल जो लाइट लगी हैं वह काफी पुरानी हैं और वे सडक़ के किनारे लगाई गई हैं जिस कारण कई बार इनके पोल से वाहन के टकराने से एक्सीडेंट का भी खतरा बना रहता है। मेरठ रोड तिराहे से लेकर दुहाई तक की सडक़ अभी आरआरटीएस के अंडर में है। पहले यह सडक़ एनएचएआई के अंडर में था, एनएचएआई ने इसे डी-नोटिफाई कर दिया। अब इस पूरी सडक़ का रखरखाव आरआरटीएस कर रहा है। आरआरटीएस ने ही इस रोड पर दुहाई तक लगाई गई लाइट को हटा दिया था। बाद में आरआरटीएस ने नगर निगम को पांच करोड़ रुपये दिए जिससे इस पूरी रोड पर लाइट लगाई जा सकें। नगर निगम ने चार वर्ष पहले पूरी रोड पर लाइट लगाने का कार्य किया था। मगर यह लाइट सडक़ के किनारे पोल लगाकर लगाई गई थी। इस रोड पर कई वाहनों के टकराने के कारण पोल कई जगह से टूट गए है। ऐसे में अब फैसला लिया गया है कि हाईस्पीड ट्रेन के ट्रैक के नीचे लाइट लगाई जाए। नगर निगम प्रशासन जल्दी ही इस प्रोजेक्ट पर कार्य करेगा। नगर निगम के लाइट विभाग का कहना है कि जल्दी ही इसके लिए सर्वे जल्द शुरू होगा।