प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। हिंडन नदी का पुल दीवाली से पहले ही शहर को मिल सकता है। हाल ही में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ योगी ने इस पुल का निरीक्षण किया था। करीब 22 करोड़ रुपये की लागत से इस पुल को सेतु निर्माण निगम बनाने का कार्य कर रहा है। जहां यह पुल बनाया जा रहा है इससे पहले वहां एक छोटा पुराना पुल था। जो देश की आजादी से पहले कभी बनाया गया था। वर्ष 2014 में यह पुल टूट गया। इस पुल के टूटने के बाद उसी जगह पर जीडीए ने नया पुल बनाने के लिए ठेका छोड़ा था। पुल बनाने का कार्य सेतु निर्माण निगम कर रहा है।
सेतु निर्माण निगम का कहना था कि वह कार्य शुरू करने के दो वर्ष के अंदर ही बनाकर तैयार कर दिया जाएगा। सेतु निर्माण निगम का कहना है कि इस मामले में बीच में कोरोना संक्रमण काल में ही दो वर्ष गुजर गए। इसके अलावा कई कारणों से इस पुल के निर्माण का कार्य बीच में अटका रहा। कारोना काल समाप्त होने के बाद अब इस पुल के निर्माण कार्य ने तेजी पकड़ी है। हाल ही में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस पुल के निर्माण कार्य को लेकर समीक्षा की थी।
मुख्यमंत्री के निरीक्षण के बाद ही इस पुल के निर्माण कार्य ने स्पीड पकड़ी है। सेतु निर्माण निगम के एक अधिकारी का कहना है कि उनकी कोशिश है कि दीवाली तक इस पुल के निर्माण का कार्य पूरा कर लिया जाएगा। अगर ऐसा है तो शहर के लिए यह एक बड़ा तोहफा होगा। इस पुल के बनते ही हिंडन नदी पर लगने वाले वाहनों के जाम से छुटकारा मिलेगा। इसके साथ ही सिटी में प्रदूषण का लेवल भी कम होने की संभावना है।