युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। जीडीए अब मधुबन-बापूधाम कॉलोनी को फोकस करने जा रहा है। प्लान तैयार किया है कि वह एनपीआर राजनगर एक्सटेंशन से लेकर डासना तक बनाएगा। इसके लिए जीडीए का इंजीनियरिंग विभाग डिजाइन तैयार करने में जुटा है।
इस एनपीआर को जीडीए दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे से जोडऩे के लिए भी एनएचएआई से बात करने जा रहा है। एनपीआर राजनगर एक्सटेंशन से शुरू होकर डासना तक जाएगा। जीडीए कई वर्ष पहले इस एनपीआर रोड के लिए 45 मीटर चौड़ी रोड बनाने को जमीन ले चुका है। जीडीए ने आठ गांवों की जमीन के अधिग्रहण करने पर करीब 450 करोड़ रुपये खर्च किया है। जीडीए के कब्जे में अब सड़क की पूरी जमीन है।
नॉर्दन पेरिफेरल रोड यानि एनपीआर को राजनगर एक्सटेंशन के भोवापुर से बनाने का कार्य शुरू किया जाएगा। यह रोड आगे राजनगर एक्सटेंशन होते हुए मननधाम के पास मेरठ रोड को क्रॉस करेगी। आगे यह रोड मधुबन-बापूधाम कॉलोनी के ऊपर से होते हुए डासना तक जाएगी। जीडीए मास्टर प्लान 2021 में इस रोड को डिजाइन किया गया था। जीडीए का इंजीनियरिंग विभाग अब इस रोड का फिजिकल सर्वे कर रहा है। जीडीए का प्लान है कि पहले यह रोड मधुबन-बापूधाम यानि मेरठ रोड से डासना तक बनाकर इसे दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे से जोड़ा जाए। ताकि मधुबन-बापूधाम कॉलोनी की लोकेशन स्मार्ट हो सके।