दिल्ली (युग करवट)। दिल्ली के जिन स्कूलों को बम की धमकी मिली थी वहां जांच पूरी हो गई है। पुलिस ने कहा है कि कहीं भी कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला है। पूरे मामले पर गृह मंत्रालय ने भी कहा है कि लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है।
बुधवार की सुबह से देश की राजधानी दिल्ली में अफरा-तफरी का माहौल अब शांत हो रहा है। दिल्ली एनसीआर क्षेत्र के करीब 100 से अधिक स्कूलों को मिली बम की धमकी वाली ईमेल के बाद पुलिस और बम स्क्वायड द्वारा लगातार जांच अभियान चलाया जा रहा था। हालांकि, अब दिल्ली पुलिस ने साफ कर दिया है कि सभी स्कूलों की जांच पूरी हो गई है और किसी स्कूल में कुछ भी संदिग्ध नही मिला। यानी की ये ईमेल होक्स थ्रेट थे। इस घटना के बाद केंद्रीय एजेंसियां भी एक्टिव हो गई हैं। पूरे मामले पर गृह मंत्रालय ने कहा है कि लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। ऐसा लगता है कि यह फर्जी कॉल है। दिल्ली पुलिस और सुरक्षा एजेंसियां प्रोटोकॉल के मुताबिक जरूरी कदम उठा रही हैं। पूर्व में भी धमकियां मिल चुकी हैं। हालांकि, इस बार धमकी मास लेवल पर है। इसलिए मेल भेजने वाले को लेकर केंद्रीय एजेंसियां भी एक्टिव हुई हैं। डोमेन की भाषा रशिया की लग रही है। धमकी भेजने वाले ईमेल का सर्वर आईपी एड्रेस पता करने की कोशिश जारी है। ईमेल भेजने वाले को लोकेट करना बहुत आसान नहीं है। जांच एजेंसियों को शक है कि ईमेल भेजने के लिये जिस आईपी एड्रेस का इस्तेमाल हुआ, उसका सर्वर विदेश में मौजूद है। ये भी शक है कि ईमेल भेजने के लिए एक ही आईपी एड्रेस का इस्तेमाल किया गया। इस कारण दिल्ली पुलिस धमकी के ईमेल मामले की जांच के लिए इंटरपोल की मदद लेने जा रही है। नोएडा-गाजियाबाद-दिल्ली पुलिस एक साथ मिलकर जांच को आगे बढ़ा रही है।