गाजियाबाद में साइकिल यात्रा में उमड़ी युवाओं की भीड़
युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। आजाद समाज पार्टी के राष्टï्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ‘रावणÓ ने कहा कि 2022 का यूपी विधानसभा चुनाव इतिहास के पन्नों में दर्ज होगा, क्योंकि इस बार अनुसूचित जाति-जनजाति और अल्पसंख्यक वर्ग के लोग भाजपा को सबक सिखाएगी। भाजपा सरकार ने साजिश रचकर एससी-एसटी और अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों को शिक्षा और रोजगार से वंचित रखा है। भाजपा ने हमेशा से हिन्दू-मुस्लिम की राजनीति कर समाज में वैमनस्यता और खाई पैदा की हैै। अब समय आ गया है कि समाजविरोधी इन तत्वों को सबक सिखाया जाए। आजाद समाज पार्टी के साथ रोज लाखों की संख्या में लोग जुट रहे हैं। इस बार विधानसभा चुनाव में दलित और अल्पसंख्यक मिलकर भाजपा को सबक सिखाएंगे।
विधानसभा चुनाव को देखते हुए आसपा की ओर से पूरे प्रदेश में साइकिल यात्रा निकाली जा रही है। गाजियाबाद में साइकिल यात्रा का शुभारंभ करते हुए चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि भाजपा सरकार की नीतियों से कोई भी वर्ग खुश नहीं है। तमाम विभागों से सेवानिवृत्त लोगों की पेंशन खत्म की जा रही है। कोरोनाकाल में जब लोग आर्थिक तंगी झेल रहे हैं तो डीजल, पेट्रोल और रसोईगैस की कीमतों में बढ़ोत्तरी की जा रही है। मंहगाई की सबसे ज्यादा मार एससी-एसटी और ओबीसी वर्ग को हो रह है।
इससे पहले चंद्रशेखर आजाद ने विजयनगर स्थित रमाबाई पार्क से साइकिल यात्रा शुरू की। साइकिल यात्रा में भारी संख्या में लोग शामिल हुए, इनमें युवाओं की संख्या सबसे ज्यादा थी। रमाबाई पार्क से चंद्रशेखर कार्यकर्ताओं के साथ गोशाला फाटक होते हुए जस्सीपुरा मोड़ पहुंचे, जहां आसपा के वरिष्ठ नेता इमरान के नेतृत्व में उनका जोरदार स्वागत किया गया। वहां से वे काफिले के साथ नवयुग मार्केट स्थित अंबेडकर पार्क पहुंचे। अंबेडकर पार्क में समर्थकों को हुजूम उमड़ा था। यहां लोगों की भीड़ देखकर चंद्रशेखर जबरदस्त उत्साहित थे। उन्होंने कहा कि यूपी में बदलाव की बयार चल रही है। जनता सत्ताधारी भाजपा को सत्ता से बाहर करने के लिए उतावली है। भाजपा के राज में कोई भी खुश नहीं है। किसानों को पूंजीपतियों के हाथों गिरवी रख दिया। उन्होंने कहा कि साइकिल यात्रा के जरिए लोगों को सरकार की जनता विरोधी नीतियों और पार्टी के कार्यक्रम व नीतियों की जानकारी दी जा रही है। साइकिल यात्रा के साथ बड़ी संख्या में लोग जुड़ रहे हैं।
हालांकि अपनी तकरीर के दौरान चंद्रशेखर आजाद ने मायावती का नाम नहीं लिया। कई बार मान्यवर कांशीराम का जिक्र किया। उन्होंन कहा कि दलितों, वंचितों और गरीब अल्पसंख्यकों को उनका हक दिलाने का मान्यवर कांशीराम ने जो सपना देखा था, आजाद समाज पार्टी उस सपने को पूरा कर रही है। देश का संविधान कहता है कि सभी एक समान है। ऐसे में सभी देशवासियों को एक समान शिक्षा, चिकित्सा, न्याय, सुरक्षा और आय के स्रोत मिलना चाहिए। इन्हीं हकों को लेकर उनकी पार्टी लोगों के पास जा रही है। पार्टी के जिलाध्यक्ष मुकेश गौतम ने बताया कि एक जुलाई से शुरू साइकिल यात्रा के जरिए छह हजार से जातियों को पार्टी के साथ जोडऩे का लक्ष्य रखा गया है। यात्रा के जरिए लोगों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया जा रहा है। साइकिल यात्रा में प्रदेश प्रवक्ता और कोर मेंबर सत्यपाल चौधरी, हाजी निजाम चौधरी, एमएल तोमर, हाजी सबील, अफजाल चौधरी, ऊषा माथुर, आनंद कुमार, धर्मेंद गौतम, रविंद्र रावत, देवेंद्र कुमार, कृष्ण कुमार, इरशद जमाल, इमरान खान, गुलजार अल्वी, रविंद्र कुमार, बिलाल चौधरी, महासचिव विपिन कुमार एडवोकेट, कोषाध्यक्ष अनिल लांबा, आदित्य गौतम, अब्दुल सईद, ब्रजपाल सिंह, अजय विपस्सी, अफजल सैफी, अफजाल चौधरी आदि उपस्थित थे।