युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। जनपद पुलिस के मुखिया के रूप में चार्ज लेते ही डीआईजी अमित पाठक ने अपने मातहत अधिकारियों विशेषकर थाना प्रभारी निरीक्षकों व चौकी प्रभारियों की कार्यप्रणाली की जांच अपने स्तर पर शुरू कर दी थी। सूत्रों की मानें तो कप्तान द्वारा की गई जांच में ऐसे लगभग एक दर्जन एसएचओ और दो दर्जन से अधिक चौकी प्रभारी उनके मानकों पर खरे नहीं उतरे। इसके बाद कप्तान ने एक बड़े फेर-बदल का खाका खींचकर ऐसे एसएचओ एवं चौकी प्रभारियों के पर कतरने की कवायद शुरू की। सूत्रों के मुताबिक, कप्तान के निर्देश पर ऐसे थानेदारों एवं चौकी प्रभारियों की कुर्सी खींचे जाने का ना केवल ब्लू प्रिंट तैयार हो गया बल्कि उनके हटने की उल्टी गिनती भी शुरू हो गई है। सूत्रों का यह भी कहना है कि लिस्ट बनकर तैयार है और किसी भी समय वह लिस्ट जारी कर दी जायेगी। उधर, डीआईजी के इस रुख की भनक लगते ही कई मठाधीश कोतवालों ने अपनी कुर्सी बचाने की जुगत लगानी भी शुरू कर दी है।