जेल से बाहर आने पर शिवपाल यादव और उनके बेटे ने किया रिसीव
नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की सीतापुर जेल में 27 महीने गुजारने के बाद सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान रिहा हो गए हैं। आजम खान सीतापुर जेल से बाहर निकले ही उनके दोनों बेटों, शिवपाल यादव और तमाम समर्थकों ने उनका स्वागत किया। सीतापुर में सपा के पूर्व विधायक अनूप गुप्ता के घर जलपान के बाद आजम खान रामपुर के लिए निकल गए, लेकिन अब तीन दिन बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनका आमना-सामना हो सकता है। सपा विधायक आजम खान सीतापुर जेल से निकलते ही भले रामपुर के चले गए हों, लेकिन सीएम योगी आदित्यनाथ से तीन दिन के बाद आमना-सामना होगा। आजम खान जेल से ऐसे समय बाहर आए हैं जब विधानसभा सत्र शुरू होने वाला है। 23 मई से उत्तर प्रदेश विधानसभा का बजट सत्र शुरू होकर 31 मई तक चलेगा। योगी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट 26 मई को पेश करेगी। विधायक होने के नाते आजम खान बजट सत्र में हिस्सा लेने के लिए विधानसभा सदन पहुंचते हैं तो सीएम योगी से उनका आमना-सामना जरूर होगा। आजम खान को उससे पहले विधानसभा अध्यक्ष से मिलकर विधायक पद की शपथ लेनी होगी, क्योंकि कोर्ट ने मार्च में सीतापुर जेल में रहते हुए आजम खान को विधानसभा में शपथ लेने की अनुमति नहीं थी। सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिलने के बाद आजम खान जेल से बाहर आए हैं तो निश्चित तौर पर विधायक पद की शपथ और बजट सत्र में हिस्सा लेने के लिए पहुंच सकते हैं।