युग करवट ब्यूरो
नई दिल्ली। ताजमहल के निर्माण के बारे में अब तक गलत जानकारी दिए जाने का दावा करने वाली याचिका पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट ने मना कर दिया है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने स्कूलों, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों में संदर्भित इतिहास की किताबों और पाठ्य पुस्तकों से शाहजहां द्वारा ताजमहल के निर्माण से संबंधित गलत ऐतिहासिक तथ्यों को हटाने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी करने की याचिका पर विचार करने से इंकार कर दिया है। जिसके बाद याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका वापस ले ली है।