युग करवट संवाददाता
नोएडा। खराब दिनचर्या, गलत खानपान और तनाव के चलते कई बीमारियां दस्तक देती है। इनमें मोटापा, मधुमेह और उच्च रक्तचाप शामिल है। गलत आदत की वजह से स्ट्रोक तेजी से बढ़ रहा है। समय रहते ध्यान नहीं दिया गया, तो यह जानलेवा साबित हो सकता है। यह जानकारी सेक्टर-11 स्थित मेट्रो मल्टी स्पेशियलिटी अस्पताल के कंसल्टेट न्यूरो स्पाइन सर्जन डॉ आकाश मिश्रा ने एक प्रेस वार्ता के दौरान दी। उन्होंने बताया कि 29 अक्टूबर को विश्व स्ट्रोक दिवस पर मेट्रो मल्टी स्पेशियलिटी अस्पताल की ओर से कई कार्यक्रमों का आयोजन कर मरीजों को स्ट्रोक नामक बीमारी के प्रति जागरूक किया जायेगा। उन्होंने बताया कि वर्क आउट न करने के चलते न केवल वजन बढऩे लगता है, बल्कि कई अन्य बीमारियां भी दस्तक देती है। इससे स्ट्रोक का खतरा बन जाता है। सेहतमंद रहने के लिए रोजाना वर्कआउट करें। डॉ. कपिल के सिंघल ने बताया कि स्ट्रोक किसी भी उम्र में हो सकता है और यह पुरुषों तथा महिलाओं को समान रूप से प्रभावित करता है। धूम्रपान सहित कई अन्य प्रकार के तंबाकू उत्पादों का सेवन करना हृदय या फेफड़ों की बीमारियों के साथ ब्रेन स्ट्रोक का भी खतरा बढ़ा सकता है। तंबाकू उत्पादों के सेवन को बंद करके स्ट्रोक के खतरे को कम किया जा सकता है। इसके अलावा अत्यधिक शराब पीने वालों को भी स्ट्रोक का खतरा होता है।