युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। शहर में तंबाकू विके्रताओं के लिए भी निगम में पंजीकरण कराना और लाइसेंस लेना अनिवार्य होगा। 18 वर्ष से कम उम्र के किशोर के तंबाकू प्रॉडक्ट बेचने पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। केवल उस व्यक्ति को ही यह प्रोडेक्ट बेचने की अनुमति मिलेगी जिसके पास आधार होगा। नगर निगम ने इसके लिए गाइड लाइन तैयार कर ली है। अगर निगम कार्यकारिणी की बैठक में प्रस्ताव पास होता है तो इस पर कार्रवाई की जाएगी। प्रदेश सरकार ने ही बिना लाइसेंस के तंबाकू प्रोडेक्ट के सेल करने पर रोक लगा दी गई है। इसके लिए अधिनियम में संशोधन किया गया है। कल होने वाली कार्यकारिणी की बैठक में निगम प्रस्ताव पेश करेगा। निगम ने जो प्रस्ताव तैयार किया है उसके हिसाब से तंबाकू प्रोडेक्ट बेचने वालों को दो सौ रुपये देकर पंजीकरण करना होगा। स्थाई दुकानदारों को एक हजार रुपये प्रति वर्ष लाइसेंस फीस देनी होगी। थोक दुकानदारों को पांच हजार रुपये लाइसेंस शुल्क अदा करना होगा। इतने ही पैसे लाइसेंस रिन्युवल के लिए देने होंगे। फुटकर स्थाई विक्रेताओ को 200 रुपये, फुटपाथ पर बैठकर तंबाकू प्रोडैक्ट बेचने वालो के लिए 100 रुपये रिन्युवल शुल्क देना होगा।