युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। प्रदेश में बढ़ रहे वायरल के मरीज, डेंगू-मलेरिया रोग के नियंत्रण को लेकर प्रदेश सरकार द्वारा नामित किए गए नोडल अधिकारी आबकारी आयुक्त डॉ.सेंथिल पांडियन सी ने आज महात्मा गांधी सभागार में अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। इस दौरान नोडल अधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग से जिले में वर्तमान में डेंगू-मलेरिया व वायरल से पीडि़त मरीजों का ब्यौरा तलब किया व इलाज से लेकर मरीजों के चिन्हिकरण को लेकर किए जा रहे कार्यों की जानकारी ली। जिले में डेंगू लार्वा की खोज के लिए चलाए जा रहे अभियान की भी समीक्षा नोडल अधिकारी ने की। इसके अलावा उन्होंने डेंगू आउट ब्रेक, स्क्रब टाइफस के प्रभावी नियंत्रण को लेकर समीक्षा बैठक की। इसके उपरांत बेसिक एवं माध्यमिक विद्यालयों में सफाई, शौचालयों की साफ-सफाई, शुद्घ पेयजल की व्यवस्था को लेकर समीक्षा की। नोडल अधिकारी ने पंचायती राज विभाग द्वारा गांवों में चलाए जा रहे स्वच्छता अभियान, स्वास्थ्य सेवाओं के विभिन्न बिंदुओं पर जानकारी ली। नगर विकास के साथ ही उन्होंने जिले में प्रदूषण नियंत्रण को लेकर किए जा रहे प्रभावी कार्यों के बारे में विस्तार से जाना। नोडल अधिकारी इसके उपरांत विभिन्न स्थानों का भ्रमण करेंगे। शासन के निर्देश पर नोडल अधिकारी सात सितंबर तक जिले में ही प्रवास करेंगे व अपनी रिपोर्ट शासन को सौंपेंगे। प्रदेश में बढ़ रहे वायरल फीवर के मरीजों को लेकर प्रदेश सरकार ने हर जिले में नोडल अधिकारी तैनात किए हैं। बैठक में डीएम आरके सिंह, सीडीओ अस्मिता लाल, नगरायुक्त महेंद्र सिंह तंवर, एडीएम प्रशासन रितु सुहास, सीएमओ डॉ.भवतोष शंखधर सहित अन्य विभागों के प्रभारी अधिकारी मौजूद रहे।