नोएडा(युग करवट)। सेक्टर-30 स्थित जिला अस्पताल में आज डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक ने निरीक्षण किया। इस दौरान डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक ने जिला अस्पताल में मरीजों को मिलने वाली स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार के साथ निरीक्षण किया। स्वास्थ्य मंत्री ने चिकित्सकों और मरीजों से स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में बातचीत भी की। डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक ने जिला अस्पताल में निरीक्षण के दौरान मरीजों से पूछा कि उनको किस प्रकार का इलाज दिया जा रहा है। जिला अस्पताल में मिलने वाले इलाज से मरीज खुश है या नहीं। जिला अस्पताल द्वारा उनकी सेवा में किसी भी प्रकार की कोई कमी तो नहीं है। वहीं, डिप्टी सीएम ने जिला अस्पताल में मरीजों से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा स्वास्थ्य को लेकर चलाए जा रहे सभी अभियान और चिकित्सकों की सेवाओं का फीडबैक भी मांगा। डिप्टी सीएम के निरीक्षण के दौरान कुछ चिकित्सक और कर्मचारी मौके पर नदारद नजर आए। ऐसे में डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक ने अस्पताल प्रशासन के अधिकारियों की जमकर क्लास भी लगायी। इस दौरान जिला अस्पताल की सीएमएस डॉक्टर विनीता अग्रवाल समेत पूरे अस्पताल प्रशासन को डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक ने सख्त निर्देश दिया कि अगर अस्पताल में किसी भी प्रकार की कोई कमी मिलती है तो जिला अस्पताल में किसी भी अधिकारी पर गाज गिर सकती है।
गौरतलब है कि डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक जिला अस्पताल में अचानक निरीक्षण करने पहुंचे थे। डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक के आने की सूचना मिलने के बाद जिला अस्पताल में भगदड़ की स्थिति पैदा हो गयी।