मसूरी। इसे जेल प्रशासन की लापरवाही कहें या फिर कोई और कारण लेकिन एक बात जो आईने की तरह साफ है कि डासना जेल प्रबंधन की लापरवाही का खामियाजा इस जेल में बंद बंदियों को अपनी जान से हाथ धोकर चुकाना पड़ रहा है। यहां यह बात इसलिये कही जा रही है कि कुछ ही दिनों के अंदर इस जेल में दो बंदियों की मौत संदिग्ध परिस्थितियों में हो गई। सूत्रों के मुताबिक, अब जिस बंदी की मौत हुई है, उसका नाम जोगेंद्र निवासी कल्लूपुरा है। ३२ वर्षीय जोगेंदर सन २०१९ से हत्या के मामले में बंद था।