प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद। (युव करवट) हाउस टैक्स को लेकर अब वरिष्ठ लेखा परीक्षक गंभीर हो गए है। इस मामले में बृजनाथ तिवारी की ओर से मुख्यकर निर्धारण अधिकारी से वित्त वर्ष 2020-2021 के हाउस टैक्स संबंधी पत्रावली तलब की गई है। इस संबंध में वरिष्ठ लेखा परीक्षक तिवारी ने मुख्यकर निर्धारण अधिकारी डॉ0 संजीव कुमार के बाद हाउस टैक्स संबंधी 2020-21 की पत्रावली की मांग की गई है। जिन पत्रावलियों की मांग की गई है इनमें सभी जोन में गृहकर,जलकर, सीवर कर और लाइसेंस संबंधी पत्रावली शामिल है। इनके अलावा सभी जोन में आवासीय, व्यवसायिक, और नामांत्रण की पत्रावली भी तलब की गई है। सिटी जोन प्रभारी सुधीर कुमार शर्मा द्वारा 41 व्यवसायिक पत्रावलियों, के अलावा इंटर कक्षा तक के स्कूलों पर लगे हाउस टैक्स संबंधी पत्रावली भी मांगी गई है। नगर निगम में दरअसल हाउस टैक्स को लेकर नया खेल चल रहा है। निगम में सिटी जोन एरिया में हाउस टैक्स स्कूलों पर आवासीय दर से तीन गुना और कविनगर, मोहननगर, वसुंधरा और विजयनगर जोन में आवासीय दर के बराबर टैक्स लिया जा रहा है।