प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। नगर निगम ने हाल ही में नई स्ट्रीट लाइट खरीद करने के लिए टेंडर निकाले हैंै। इन टेंडर को खोल भी दिया है, मगर इसके बाद भी नगर निगम स्ट्रीट लाइट नहीं खरीद रहा है। जबकि शहर में बड़ी संख्या में स्ट्रीट लाइट खराब पड़ी हैं। शहर में करीब 25 लाख की आबादी निवास करती है, लेकिन गाजियाबाद नगर निगम ने कई महीने से एक भी स्ट्रीट लाइट की खरीद नहीं की है। पूर्व में नगर निगम प्रशासन की ओर से 190 वॉट की लाइट खरीद के लिए टेंडर मांगा गया था। इसमें से भी नगर निगम को 2500 में से केवल 1300 स्ट्रीट लाइट ही मिल पाई हैं। इन स्ट्रीट लाइट को कहां लगाया जाएगा यह भी अभी नगर निगम तय नहीं कर सका है। प्रकाश विभाग का कहना है कि 190 वॉट की नई लाइट लगवाने के लिए नगर निगम ने एक सूची तैयार की है। उच्चाधिकारी से इसके लिए अनुमति ली जा रही है जिसके बाद ही नगर निगम इस पर अगली कार्रवाई करेगा। यानी जहां अनुमति मिलेगी वहीं इन लाइटों को लगाया जाएगा और वहां से जो पुरानी लाइट उतारी जाएंगी उन्हें जरूरत की जगह पर लगाया जाएगा। नगर निगम के प्रकाश विभाग का मानना है कि शहर में लाइट की कमी है। इसीलिए नगर निगम ने पिछले महीने ही टेंडर निकाला है। इसे खोल लिया गया है, लेकिन जिस कंपनी को टेंडर में पास किया गया है उससे नगर निगम अब लाइट नहीं खरीद रहा है। लाइट क्यों नहीं खरीदी जा रही है इसका स्पष्ट उत्तर प्रकाश विभाग के अधिकारी नहीं दे रहे हैं।