नोएडा (युग करवट)। झूठी आन में अपने चचेरे भाई की हत्या करने तथा सगी बहन की हत्या के प्रयास करने के मामले में पुलिस ने दो सगे भाइयों सुनील तथा गोरे उर्फ अनिल को आज गिरफ्तार कर लिया है। इनके पास से पुलिस ने मृतक के मोबाइल फोन व 2500 रूपए नगद, हत्या में प्रयुक्त ईट और डंडा आदि बरामद किया है। दोनों आरोपियों को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया, जहां से न्यायालय ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। वहीं उपचाराधीन किशोरी जिंदगी तथा मौत के बीच जूझ रही है।
पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) अमित कुमार सिंह ने बताया कि रविवार की देर शाम को परी चौक के पास एक युवती लहूलुहान अवस्था में मूर्छित पड़ी थी। उन्होंने बताया कि गश्त करती हुई निकली पुलिस ने वहां पर जाकर देखा तो पास में ही एक युवक लहूलुहान अवस्था में पड़ा था, तथा युवती कराह रही थी। उन्होंने बताया कि दोनों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर डॉक्टरों ने युवक को मृत घोषित कर दिया। जबकि युवती का उपचार चल रहा है। उन्होंने बताया कि होश में आने पर युवती ने पुलिस को बताया कि मृतक का नाम राजू (23 वर्ष) पुत्र जग्गी निवासी ग्राम काऊन जनपद फतेहपुर है। किशोरी ने बताया कि वह तथा राजू एक दूसरे से प्रेम करते हैं, तथा आपस में चचेरे भाई-बहन हैं।
उनके घर वाले उनकी शादी के लिए तैयार नहीं थे। इसलिए दोनों जनपद फतेहपुर से भागकर ग्रेटर नोएडा आ गए थे।