नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। विजयनगर स्थित जेकेजी इंटरनेशनल स्कूल में कक्षा तीन व चार का ‘वार्षिक कक्षा प्रस्तुतीकरण’ का आयोजन किया गया। इस दौरान छात्रों को नैतिक मूल्यों का महत्व बताया। समारोह का शुभारंभ संस्थापक चेयरमैन जेके गौड़ ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। उन्होंने छात्रों को नैतिक मूल्यों का महत्व बताते कहा कि हमारी पौराणिक कथाएं हमें जीवन जीने के सही तरीके के बारे में सिखाती हैं और जीवन को बुराई से बचाकर अच्छाई की ओर अग्रसर करने का संदेश देती हैं। विद्यालय के निदेशक करूण गौड़ ने कहा कि पौराणिक कथाओं से मिली शिक्षा बच्चों का सही मार्गदर्शन करेंगी और उन्हें अपने लक्ष्य तक पहुंचाने में सहायक होंगी। प्रधानाचार्य अंजू गौड़ ने कहा कि हमारी पौराणिक कथाओं में जीवन का असली सार छिपा है। इन कथाओं से प्रेरणा लेकर हम अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं। छात्रों ने पौराणिक कथाओं के पात्रों के रूप में प्रस्तुति दी जिसमें भारत की विशाल सांस्क्रतिक विरासत की झलक दिखाई दी। छात्रों ने कर्तव्य परायण श्रवण कुमार, कृष्ण-सुदामा की दोस्ती, धनुर्धर एक्लव्य, विघ्नविनाशक भगवान गणेश व धर्मनिष्ठ विभीषण की कथाओं का मंचन किया। कार्यक्रम में प्राइमरी प्रभारी रीमा सुनेजा, हिमानी अरोड़ा, निधि शर्मा, हिमानी शर्मा, दुर्गेश नंदनी, अनुभवी, प्रियंका, तृप्ति शंकर, मोनिका, अंजलि नेगी, किरण, भावना, रमनदीप आदि मौजूद रहे।