युग करवट संवाददाता
गाजियबाद। उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामलों में बढ़ोत्तरी जारी है। सोमवार को प्रदेश में 210 नए केस मिले हैं। प्रदेश में सबसे ज्यादा 120 मामले गौतमबुद्ध नगर में मिले हैं। इसके अलावा गाजियाबाद में 273, लखनऊ में 12, आगरा में 8 और मेरठ में 4 मामले रिपोर्ट हुए हैं। राज्य में एक्टिव केस की संख्या बढक़र 1277 हो गई है। इस बीच मुख्यमंत्री ने आज टीम-9 के सदस्यों के साथ हालात की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने नोएडा, गाजियाबाद में कोविड टेस्टिंग बढ़ाने के निर्देश दिए। साथ ही लोगों को कोविड प्रोटोकॉल की जानकारी देने के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूलों में टीकाकरण अभियान में तेजी लाया जाए।
फेस मास्क की अनिवार्यता को प्रभावी ढंग से लागू किया जाए। मुख्यमंत्री ने नोएडा,लखनऊ में रैंडम कोरोना टेस्टिंग के आदेश दिए। तीसरी लहर के बाद बच्चे सबसे ज्यादा कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। वहीं कोरोना के नए मामलों को लेकर आईआईटी कानपुर ने अध्ययन किया है। जिसमें बताया गया कि प्रदेश में जून-जुलाई में कोरोना एक बार फिर से पीक पर रहेगा। पिछले लगभग 2 सालों से लगातार कोरोना के नए-नए वैरिएंट सामने आ रहे हैं। आईआईटी कानपुर की रिपोर्ट में बताया गया कि कोरोना महामारी की संभावित चौथी लहर 22 जून 2022 के आसपास आ सकती है। इस लहर का पीक अगस्त के आखिरी पर चरम पर हो सकता है।