युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। जीडीए बोर्ड की आज मेरठ मंडलायुक्त कार्यालय में बैठक हुई। बैठक की अध्यक्षता मंडलायुक्त सुरेंद्र सिंह ने की। बैठक में मास्टर प्लान 2031, लैंडयूज, चालू वित्त वर्ष के बजट आदि के कई प्रस्ताव पेश किए गए। मगर सबसे खास प्रस्ताव चार मेट्रो स्टेशनों को जोडऩे के लिए मोना केबिल एयर बस सिस्टम को पीपीपी मोड़ पर विकसित करने सहित कई प्रस्ताव बोर्ड की बैठक में पास हुए। इस दौरान डीएम आरके सिंह, जीडीए वीसी कृष्णा करुणेश, नगर आयुक्त, एसएसपी आदि अधिकारी मौजूद रहे।
बोर्ड की बैठक सुबह करीब 11 बजे शुरू हुई। बैठक में जीडीए वीसी ने अजैंडा पेश किया। बैठक में 26 अगस्त 2021 बोर्ड बैठक की पुष्टिï और इसके बाद 158 वीं बोर्ड बैठक की कार्यवृति के अनुपालन का प्रस्ताव पेश किया गया। इसके अलावा जीडीए बोर्ड की बैठक में कई खास प्रस्ताव पास किए गए। इन प्रस्तावों में खसरा संख्या 1330एम, 1331एम,1332एम, व 1337 एम ग्राम अर्थला के भू उपयोग बदलने, मैसर्स संजीव अरोड़ा एंड कंपनी इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रा0लि0 द्वारा प्रस्तुत ग्राम बैहटा हाजिपुर शासन द्वारा धारा-4(3) के अंतर्गत जारी आदेश का निस्तारण करने का प्रस्ताव शामिल है।
मैसर्स एंथम यशर्कीती इन्फ्रा0 सिटी द्वारा गांव नूरनगर एवं सद्दीकनगर में स्वीकृत नक्शे के विवाद के निस्तारण कराने,गोविंदपुरम योजना के एक ब्लॉक में नियोजित पेट्रोल पंप, फिलिंग स्टेशन से व्यवसायिक उपयोग किए जाने, मार्च 2023 तक जीडीए की प्रॉपर्टी के रेट को फ्रीज करने का प्रस्ताव बोर्ड में पेश किया गया। बैठक में वैशाली मेट्रो स्टेशन से मोहननगर मेट्रो स्टेशन, नया बस अड्डा से गाजियाबाद रेलवे स्टेशन, वैशाली से नोएडा सेक्टर 62, तथा राजनगर एक्सटेंशन चौराहा से मेट्रो के हिंडन रिवर स्टेशन तक पीपीपी मोड पर केबिल चालित एयर बस सिस्टम के निर्माण किये जाने, अवस्थाना निधि के पैसे से निवाड़ी से मोदीनगर तक रोड के चौड़ीकरण करने आदि के 115 करोड़ तीन हजार रूपये स्वीकृत शामिल है। वैशाली सेक्टर 4 पार्किंग में डीएमआरसी के हिसाब से छूट देने, विधि विभाग में और अधिकारियों की तैनाती करने, अवर अभियंता ब्रहमदेव शुक्ला के लिए चिकित्सा खर्च करीब नौ लाख, और वर्क सुपरवाइजर बदले सिंह के इलाज के लिए दस लाख 90 हजार रूपये की मदद स्वीकार करने, जीडीए के कर्मचारी रहे अतुल शर्मा की मौत हो चुकी है। उसके इलाज में हुए नौ लाख 34 हजार रुपये के भुगतान करने के कई प्रस्ताव को बोर्ड की बैठक में पास कर दिया गया।