युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। मेट्रो पर बकाया निगम के सर्विस टैक्स का करीब छह करोड़ रुपया जीडीए ने अदा करने से इनकार कर दिया। इस संबंध में निगम प्रशासन ने हाल ही में एक पत्र जीडीए को भेजा है। निगम ने इससे पहले इस संबंध में एक पत्र डीएमआरसी को लिखा था। निगम ने डीएमआरसी के दिलशाद गार्डन से नया बस अड्डा रूट के आठ स्टेशन तथा कौशांबी और वैशाली मेट्रो स्टेशन पर करीब छह करोड़ रुपये सर्विस टैक्स तय किया था। डीएमआरसी ने निगम के नोटिस का जवाब दिया।
जिसमें कहा कि जो टैक्स निगम का यूपी के मेट्रो स्टेशन पर बनता है वह टैक्स जीडीए अदा करेगा। जीडीए के साथ डीएमआरसी और यूपी सरकार की और से एक अनुबंध है। जिसमें कहा गया कि इस रूट पर जो भी सरकारी देनदारी होगी वह डीएमआरसी अदा नहीं करेगा। यह बकाया जीडीए को अदा करना होगा। नगर निगम ने इसके बाद जीडीए को पत्र लिखकर डीएमआरसी पर बकाया सर्विस टैक्स की मांग की थी। जीडीए ने स्पष्टï कर दिया कि मेट्रो पर जो बकाया है उससे जीडीए का कोई लेना देना नहीं है। निगम यह बकाया डीएमआरसी से वसूलने का कार्य करे। जीडीए यह पैसा नहीं देगा।