गाजियाबाद। ओटीएस में आवेदन नहीं करने वाले बिल्डरों पर अब जीडीए एक्शन लेने जा रहा है। जिन बिल्डरों पर जीडीए का करोड़ों रुपये का बकाया है। उनकी लिस्ट तैयार होनी शुरु हो गई है। जीडीए वीसी $कृष्णा करुणेश के आदेश पर प्रॉपर्टी विभाग ने डिफाल्टर बिल्डरों की सूची तैयार करनी शुरु कर दी है। यह सूची कॉलोनीवार तैयार की जा रही है। दरअसल हाल ही में प्रदेश सरकार की ओर से ओटीएस स्कीम लॉन्च की गई थी। जीडीए को उम्मीद है कि उसका करीब एक हजार करोड़ से अधिक का बकाया है। ओटीएस स्कीम में आवेदन कर बकाएदार पैसा जमा करा देंगे। इससे जीडीए को कई करोड़ रुपये की अतिरिक्त इनकम होगी। जीडीए की यह पॉलिसी धरी की धरी रह गई। ऐसे में अब जीडीए बकाएदरों पर सख्त हो गया है। जीडीए अब कॉलोनीवार डिफाल्टर की सूची तैयार कर रहा है। संभावना है कि इसी महीने सूची फाइनल हो जाएगी। ऐसे बकाएदारों को जीडीए नोटिस भेजेगा जिन्होंने ओटीएस में आवेदन कर जीडीए का बकाया अदा नहीं किया है।