अलीगढ़। एक ऐसा मामला सामने आया जिससे पुलिस भी हैरान है। दरअसल, जिस लडक़ी की हत्या और अपहरण के जुर्म में एक युवक पिछले 7 साल से जेल में बंद है, वह पुलिस को जिंदा मिली है। पुलिस को पता चला कि लडक़ी हाथरस गेट क्षेत्र में पति और दो बच्चों के साथ रह रही है। उन्होंने तुरंत उसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। जेल में बंद युवक विष्णु की मां ने कोर्ट से अब न्याय की गुहार लगाई है। दरअसल, पिछले दिनों गोंडा के ढांठौली गांव निवासी सुनीता वृंदावन के एक भागवताचार्य के साथ एसएसपी से मिलीं थीं। उन्होंने बताया था कि उनके निर्दोष बेटे को गांव की एक लडक़ी के अपहरण और हत्या के जुर्म में जेल भेजा गया है। लेकिन असल में वह लडक़ी जिंदा है और पति और दो बच्चों के साथ आराम से जिंदगी बिता रही है। एसएसपी के निर्देश पर पुलिस ने मामले पर एक्शन लिया और आरोपी लडक़ी को गिरफ्तार कर लिया। विष्णु की मां की गुहार पर पुलिस ने युवती को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर दिया। इस मामले में थाना गोंडा प्रभारी इंस्पेक्टर उमेश शर्मा ने बताया कि पुलिस सच को सामने लाने में जुटी है। कोर्ट में बयान दर्ज कराने के बाद ही युवक की जेल से रिहाई हो सकती है।