नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। जिले के शहरी क्षेत्र ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों को भी विकसित बनाए जाने की कवायद चल रही है। गांवों को विकसित करने के उद्देश्य से जिले के ११ गांवों को प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत चुना गया है। यह सभी गांव अनुसूचित जाति सब प्लान के तहत चयनित किए गए जिसमें में गांववासियों की सामाजिक सुरक्षा यानि अनुसूचित जाति के लिए आय व अन्य असमानताओं को कम करते हुए उनके सामाजिक, अर्थिक, शैक्षिक एवं न्यूनतम आवश्यकताओं की पूर्ति के उद्देश्य से काम किया जाएगा। इस योजना में उत्तर प्रदेश के ७२४ गांवों को चिन्ह्ति किया गया है जिसमें से ११ गांव जिले के भी शामिल हैं। इन गांवों में विकास कार्य कराएं जाएंगे। इस योजना में मुरादनगर ब्लॉक के मोहम्मदपुर कदीम, जलालपुर रघुनाथपुर, सिखैड़ा हजारी, अमीरपुर गढ़ी, भोजपपुर ब्लॉक के गांव पट्टी, इशाकनगर, रजापुर ब्लॉक में गांव भोवापुर, मटियाला, समयपुर, मकरैड़ा और लोनी ब्लॉक में सादाबाद दुर्गावती गांव शामिल हैं। पीएम आदर्श गांव के तहत जहां लोगों की सामाजिक असमानता को दूर करने का काम किया जाएगा वहीं अन्य विकास के कार्यो के भी कराए जाएंगे। पूर्व में इन गांवों के लिए बनाई गई वीडीपी को दोबारो से सर्वे कर तैयार किया जा रहा है। डीपीआरओ प्रदीप द्विवेदी ने बताया कि दोबारा सर्वे होने के बाद वीडीपी स्वीकृत होने के उपरांत योजना के तहत काम किए जाएंगे।