युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। जिले के चार मास्टर प्लान आज नियोजन कमेटी के सामने पेश किए गए है। अब इन मास्टर प्लान के ड्राफ्ट की स्क्रूटनी की जाएगी। शासन स्तर पर इसके लिए पहले से ही एक कंसलटेंट कंपनी के साथ हाईपावर कमेटी बनाई गई है। इस कमेटी की रिपोर्ट पन्द्रह दिन में आएगी। इसी रिपोर्ट के आधार पर मास्टर प्लान 2031 के डेटाज में थोड़ा बदलाव किया जाएगा। नया मास्टर प्लान का ड्राफ्ट तैयार हो चुका है। इसके लिए केंद्र सरकार ने एक कंपनी को दो करोड़ रुपये में ठेका दिया था। जीडीए के सीएटीपी आशीष शिवपुरी ने बताया कि कंसलटेंट कंपनी के डेटा के आधार पर शहर के चार मास्टर प्लान फाइनल हो चुके है। इनमें मोदीनगर, गाजियाबाद, मुरादनगर और लोनी शामिल है।
मास्टर प्लान तैयार करने के लिए पहले ही आम जनता के सुझाव आदि मांगने का कार्य पूरा किया जा चुका है। सुझाव और आपत्तियों को पहले ही समायोजित किया जा चुका है। आज मास्टर प्लान के फाइनल हुए डेटा को आज लखनऊ में नियोजन विभाग में पेश किया गया है। वहां लगातार घंटो बैठक के दौरान मास्टर प्लान का अवलोकन किया गया। इसमें क्या बदलाव होगा इसके लिए नियोजन कमेटी बाद में रिपोर्ट देगी।