युग करवट ब्यूरो
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरी झंडी दिखाकर गंगा विलास को रवाना किया। साथ ही क्रूज टूरिज्म को लेकर बड़ी घोषणा भी की।
उन्होंने कहा कि इसी तर्ज पर देश की कई नदियों पर काम चल रहा है। इसके लिए 111 राष्ट्रीय जलमार्गों को विकसित किया जा रहा है। जलमार्ग पर्यावरण की सुरक्षा के लिए भी अच्छे हैं और किराया भी कम लगता है। भारत में जो नदियां हैं वो लोगों और सामान के ट्रांसपोर्ट के लिए उपयोग की जा सकती है। उन्होंने सभी क्रूज यात्रियों को सुखद यात्रा के लिए शुभकामनाएं दी।
टेंट सिटी को लेकर नरेंद्र मोदी ने कहा कि ये भारत के विकास का उदाहरण है। नए भारत के विकास का प्रतिबिंब है। गंगा विलास की शुरुआत होना साधारण नहीं है। 32000 किमी से ज्यादा का ये जलमार्ग नदी संसाधनों के लिए उदाहरण है। 2014 के बाद से भारत इस पुरातन ताकत को अपनी बड़ी शक्ति बनाने में जुटा है। 2014 में सिर्फ पांच राष्टï्रीय जलमार्ग देश में थे।
आज 24 राज्यों में 111 राष्ट्रीय जलमार्गों को विकसित करने का काम चल रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हल्दिया मल्टी मॉडल टर्मिनल और उत्तर प्रदेश तथा बिहार की सामुदायिक जेटी का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुवाहाटी में पांडु टर्मिनल में एक जहाज मरम्मत सुविधा और एक एलिवेटेड रोड का लोकार्पण किया।
नई पहचान के साथ आगे बढ़ रही है काशी: योगी आदित्यनाथ
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन में कहा कि प्रधानमंत्री ने आज राज्य में 5 नए घाटों का भी उद्घाटन किया। काशी आज एक नई पहचान के साथ आगे बढ़ रही है। वाराणसी में अब पर्यटन और रोजगार में बढ़ोतरी होगी। रविदास घाट पर मुख्यमंत्री योगी के साथ मंच पर कई दिग्गज मौजूद रहे। कार्यक्रम के शुरुआत में केंद्रीय मंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने अपना संबोधन दिया। बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव भी वीडिय कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़े। असम के मुख्यमंत्री हेमंता विश्वकर्मा का ने भी संबोधन दिया।