युग करवट संवाददाता
लखनऊ। अलीगढ़ जिले में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि एक दर्जन से अधिक लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। गंभीर मरीजों का इलाज अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज में चल रहा है। घटना सामने आने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले का संज्ञान लिया है। मुख्यमंत्री योगी ने इस घटना में शामिल दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को दोषियों पर तत्काल एनएसए की कार्रवाई करने के निर्देश दिए है। घटनास्थल पर डीएम-एसपी के अलावा एसडीएम रंजीत सिंह, जिला आबकारी अधिकारी और वन अधिकारी भी पहुंचे हैं।
जानकारी के मुताबिक, अलीगढ़ के थाना लोधा क्षेत्र के अंतर्गत गांव करसुआ में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत हुई है। स्थानीय लोगों ने बताया है कि मरने वालों ने गांव के ही ठेके से शराब खरीद कर पी थी। मरने वालों में दो करसुआ में स्थित एचपी गैस बॉटलिंग प्लांट के ड्राइवर हैं। मौके पर अफसर पहुंचे और शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने हालांकि मृतकों की संख्या 8 बताई है लेकिन तीन और लोगों की इलाज के दौरान मौत हो गई है। डीएम ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है, जांच में जो भी निकल कर आएगा, उसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी। अलीगढ़ रेंज के डीआईजी दीपक कुमार ने बताया कि सुबह पुलिस को सूचना दी गई कि सुबह गांव में जो प्लांट है वहां दो डेड बॉडी मिली है। वहां पता चला कि वह शराब पीने से मौत हुई है। उसके बाद गांव से पता चला कि कुछ लोगों की गांव में भी मौत हुई है।