युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। गाजियाबाद रेलवे स्टेशन का मासिक निरीक्षण करने पहुंचे नॉर्दन रेलवे के डीआरएम डिंपी गर्ग ने स्टेशन पर अव्यवस्थाएं देखकर नाराजगी जताई। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए व्यवस्थाओं में सुधार लाने के निर्देश दिए। डीआरएम ने मीडिया से वार्ता करते हुए कहा कि धोबीघाट आरओबी जनवरी के अंत तक जनता को मिल जाएगा। डीआरएम ने कहा कि दिसंबर तक धोबीघाट आरओबी का काम पूरा हो जाएगा। इसके उपरांत फिनिशिंग का काम समाप्त होने के बाद इसे जनता को समर्पित किया जाएगा। गाजियाबाद रेलवे स्टेशन पर बन रहे एफओबी के लिए भी उन्होंने दिसंबर के बाद काम फिर से शुरू किए जाने की संभावना जताई है। इसके बाद यह एफओबी भी जनवरी तक शुरू हो जाएगा। डीआरएम ने कहा कि स्टेशन के डेवलपमेंट की योजनाओं को फिर से शुरू किया जाएगा। पूर्व में कंपनी से कांट्रेक्ट निरस्त होने के कारण अब नए सिरे से योजनाओं का खाका तैयार किया जाएगा। इसके बाद स्टेशन पर काम शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हाल ही में हुई ईएमयू कारशैड में चोरी की घटना को लेकर गंभीर रूप से कार्रवाई की जा रही है। वहां सीसीटीवी कैमरे ना होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हर जगह कैमरे लगाए जाने संभव नहीं है। लेकिन फिर भी जो संभव कार्रवाई होगी, वो की जा रही है ताकि भविष्य में इस तरह की घटनाएं ना हो सके। कोरोना के दौर में ट्रेनों की कम होती संख्या पर डीआरएम ने कहा कि जल्द ही इस दिशा में काम किया जाएगा और पूरी क्षमता के साथ ट्रेनों का संचालन किया जाएगा ताकि दैनिक यात्रियों को दिक्कतों का सामना ना करना पड़े। निरीक्षण के दौरान डीआरएम ने प्लेटफॉर्म नंबर तीन पर गंदगी को लेकर अधिकारियों से कड़ी नाराजगी जाहिर की। टूटे बोर्ड, डिस्प्ले बोर्ड को ना बदले जाने पर तत्काल कार्रवाई की मांग की गई है। स्टेशन के बाद डीआरएम ने लोको लॉबी शैड, ईएमयू कार शेड, वर्कशॉप, सिग्नल वर्कशॉप का निरीक्षण किया। इस दौरान एटीएम सीमा तोमर, एसपी जीआरपी अपर्णा गुप्ता, एसएस कुलदीप त्यागी, आरपीएफ प्रभारी पीकेजी नायडू आदि आला अधिकारी मौजूद रहे।